SpecialFile4u.com

शादी के बाद आधार कार्ड का नाम और पता बदलने कि ऑनलाइन प्रक्रिया व आवश्यक दस्तावेज

aadhar card update after marriage

आधार कार्ड (Aadhaar card)व्यक्तिगत पहचान के सबसे महत्वपूर्ण दस्तावेजों में से एक है, आधार कार्ड की जरूरत आज के समय में किसी भी डॉक्यूमेंट प्रूफ के लिए पड़ती है। खासकर ये तब और जरूरी हो जाता है जब सुप्रीम कोर्ट ने ये फैसला सुना दिया है कि इनकम टैक्स फाइल करते समय आधार की जानकारी देना जरूरी है। आपकी भी शादी हो गयी है और आधार कार्ड में नाम बदलवाना चाहती है, ऑनलाइन & ऑफलाइन प्रक्रिया के तहत भी आधार में नाम परिवर्तित कराया जा सकता है। ऑनलाइन नाम बदलवाने की प्रक्रिया काफी आसान है। हालांकि आपको नाम परिवर्तन कराने के लिए संबंधित दस्तावेजे देने होंगे। आप अपने आधार में अपना नाम बदलवाना चाहते हैं तो आपको कुछ जरूरी स्टेप्स।

आधार कार्ड एक भारतीयों के लिए एक ऐसा पहचान पत्र है जिसे बैंक अकाउंट खुलवाने, पासपोर्ट बनवाने और यात्रा करने से लेकर तमाम जरूरी कार्यों में प्रयोग कर सकते हैं। कई बार आधार कार्ड में जन्मतिथि, पता आदि गलत छप जाते हैं तो लोगों को जानकारी न होने के कारण इधर—उधर भटकना पड़ता है। वहीं शादी के बाद महिलाओं को भी इसमें सरनेम बदलवाने की समस्या आती है। अगर आपके साथ भी ऐसी कोई समस्या है तो परेशान न हों। आप इसे घर बैठे ही सुधार सकते हैं, जानें कैसे— आधार नंबर की मदद से सबसे पहले आधार की वेबसाइट लॉगइन करें।

ऑनलाइन प्रक्रिया:

  • सबसे पहले uidai का सरकारी पोर्टल खोलें।
  • पोर्टल खोलते ही आपको आधार अपडेट का विकल्प दिखेगा, इसमें अपडेट आधार ​डीटेल्स (ऑनलाइन) वाले विकल्प पर क्लिक करें।
  • इसके बाद एक नया पेज खुलेगा। इस पेज के अंत में To submit your update/ correction request please click here लिखा होगा। उस पर क्लिक करें।
  • इसके बाद आपसे आधार नंबर और दिया गया वैरिफिकेशन कोड भरने को कहा जाएगा। इसे भरते ही आपके मोबाइल पर ओटीपी नंबर आ जाएगा।
  • इसे भरने के बाद आपके सामने एक फॉर्म खुलेगा। फॉर्म में मांगी गई सारी जानकारी भरकर सब्मिट करें।
  • इसके बाद सब्मिट आधार नाम परिवर्तन वाले ऑप्शन पर क्लिक करें। अब अपना नाम, नंबर, आदि विवरण दें।
  • इसके बाद यूजर अपनी जरूरत के मुताबिक आई प्रूफ या पते का प्रूफ के विकल्प पर जाए। पते के प्रूफ के तौर पर पासपोर्ट, पासबुक, बैंक स्टेटमेंट, जन्म प्रमाण पत्र, बिजली का बिल आदि दें। आईडी प्रूफ के तौर पर राशन कार्ड, पैन कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस आदि दे सकते हैं।
  • इसके बाद अथॉरिटी की ओर से प्रूफ के तौर पर आपको रिक्वेस्ट नंबर दिया जाएगा और आप बदलाव के साथ अपना आधार कार्ड अपडेट कर सकेंगे।

aadhar card update 2020

ऑफलाइन प्रक्रिया:

uidai का सरकारी पोर्टल में जाकर update request by post पर क्लिक करके फॉर्म डाउनलोड करें व इसका प्रिंटआउट निकलवाकर इसे भरें। मांगे गए जरूरी दस्तावेजों की फोटो कॉपी को स्वयं सत्यापित कर संलग्न करें। अब इसे एआईडीएआई के पते पर भेजें।

आवेदन करने के करीब दो हफ्ते बाद आप अपना आधार स्टेटस वेबसाइट पर देख सकते हैं।

विवाहित महिलाओं के लिए आधार कार्ड में नाम बदलने के लिए आवश्यक दस्तावेज

शादी के बाद आधार कार्ड अपडेट के लिए, आपको अनुरोध का समर्थन करने वाले आवश्यक दस्तावेजों को ले जाना होगा। सबसे स्वीकार्य आपका विवाह प्रमाण पत्र या मैरिज रजिस्ट्रार द्वारा जारी विवाह का प्रमाण है। इसके अलावा, आप ऑनलाइन शादी के बाद आधार कार्ड के नाम और पते में बदलाव के लिए नीचे बताए गए किसी भी दस्तावेज को चुन सकते हैं।

पैन कार्ड, पासपोर्ट, मतदाता पहचान पत्र, राशन कार्ड, पीडीएस फोटो कार्ड, आवेदक का ड्राइविंग लाइसेंस, मनरेगा जॉब कार्ड, भारत सरकार द्वारा जारी फोटो पहचान पत्र, पेंशनर फोटो कार्ड, शस्त्र लाइसेंस, फोटो क्रेडिट कार्ड, सेवा फोटो आईडी पीएसयू द्वारा जारी किए गए कार्ड, एक मान्यता प्राप्त शिक्षण संस्थान, तस्वीर के साथ बैंक एटीएम कार्ड, सीजीएचएस की फोटो कार्ड, स्वतंत्रता सेनानी की फोटो कार्ड द्वारा जारी फोटो पहचान, शादी का प्रमाण पत्र, किसान तस्वीर पासबुक, ईसीएचएस photocard, शादी के प्रमाण के दस्तावेज़ द्वारा जारी किए गए के रूप में द मैरिज रजिस्ट्रार, कानूनी रूप से स्वीकृत नाम परिवर्तन प्रमाण पत्र, डाक पहचान पत्र विभाग का नाम, फोटो और पता, विकलांग मेडिकल प्रमाण पत्र या राज्य सरकार या केंद्र शासित प्रदेश द्वारा जारी विकलांगता कार्ड और आवेदक की फोटो के साथ पहचान प्रमाण पत्र राजपत्रित अधिकारी या तहसीलदार द्वारा जारी किया गया एक लेटरहेड




आधार में नाम अपडेट करते समय याद रखने वाले बिंदु

शादी के बाद आधार में अपना नाम अपडेट करते समय इन बातों का ध्यान रखें।

  1. आवेदन करते समय आपको अपना सही नाम देना होगा। उस नाम को न लिखें जो आपके आधार कार्ड में वर्तमान में है।
  2. अद्यतन अनुरोध को प्रमाण द्वारा समर्थित करना होगा जो विवाह प्रमाण पत्र या उपरोक्त दस्तावेजों में से एक हो सकता है।
  3. इस प्रक्रिया में लगभग 90 दिन लगेंगे। एक बार अधिकारियों ने आपका विवरण सत्यापित कर लिया, तो आप अपना ई-आधार UIDAI की आधिकारिक वेबसाइट से डाउनलोड कर पाएंगे। वैकल्पिक रूप से, आप निकटतम आधार नामांकन केंद्र पर जा सकते हैं और अद्यतन आधार की सॉफ्ट कॉपी प्राप्त कर सकते हैं।
  4. आवश्यक विवरण आपकी स्थानीय भाषा या अंग्रेजी में भरा जाना चाहिए।
  5. आधार विवरण को सही करते समय, आपको यह सुनिश्चित करने की आवश्यकता है कि आपका URN आपके साथ सुरक्षित है क्योंकि यह आपके अपडेट की स्थिति की जांच करने में आपकी सहायता करेगा।
  6. यदि आपका फोन नंबर यूआईडीएआई के पास पंजीकृत नहीं है या आपके पास आपके पास पंजीकृत फोन नंबर नहीं है, तो आप आधार कार्ड को सही करने के ऑफ़लाइन तरीके का विकल्प चुन सकते हैं।
  7. सुनिश्चित करें कि दर्ज किए गए सभी विवरण सही और बड़े अक्षरों में हैं।
  8. सभी आवश्यक जानकारी भरना महत्वपूर्ण है और कोई भी विकल्प अप्राप्य नहीं छोड़ा जाना चाहिए।
  9. आपको यह सुनिश्चित करने की आवश्यकता है कि आधार धारक का नाम लिखते समय आप किसी भी पदनाम का उपयोग न करें।
  10. केवल उन दस्तावेजों को भेजें जो प्रमाण के रूप में आवश्यक हैं।
  11. आपको अपने पंजीकृत पते पर अद्यतन आधार की भौतिक प्रति प्राप्त होगी। यदि आप आवेदक हैं, तो आपको इसे प्राप्त करने के लिए स्थान पर उपस्थित होना चाहिए।
  12. आपको अपने द्वारा भेजे जाने वाले किसी भी दस्तावेज की सेल्फ अटेस्ट फोटोकॉपी करनी चाहिए।
  13. आपको आधार में किए गए किसी भी बदलाव को दोबारा जांचना होगा। भविष्य में किसी भी समस्या से बचने के लिए उन्हें सही होने की आवश्यकता है।
  14. आधार, बैंक अकाउंट और अन्य जैसे अन्य महत्वपूर्ण दस्तावेजों में अपना नाम बदलने के लिए भी आप आधार का उपयोग कर सकते हैं।